Wednesday, 22 ,May 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

जिन शासन का मनाया 2580वां स्थापना दिवस | ग्रामीण अंचलों में बनी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क पर बेखोफ दौड़ रहे ओवरलोड डम्फर, जिम्मेदार नहीं कर रहे कोई कार्रवाई | वरिष्ठ नागरिक पेंशनर्स एसोसिएशन की बैठक का हुआ आयोजन | सांसद की माताजी का निधन, भाजपा में शोक की लहर | श्रीमद् भागवत कथा के चौथे दिन भजनों पर थिरके भक्त, बही भागवत गंगा | लोकसभा चुनाव जोबट विधानसभा क्षेत्र के ग्राम आम्बुआ में शांति पूर्वक संपन्न | चौथे चरण का मतदान सम्पन्न, सैलाना विधानसभा में सबसे ज्यादा मतदान | ग्रीष्मकालीन जैन आवासीय धार्मिक संस्कार शिविर का आयोजन 14 से 19 को पेटलावद में | गुरुदेव की निश्रा में 300 वर्षीतप आराधकों ने किए पारणें | सरपंच पति के साथ 6 आरोपीयो के विरुद्ध 4 व्यक्तियों की हत्या करने का मामला हुआ दर्ज | कांग्रेस का हूं कांग्रेस का रहूंगा कहने वाले सरपंच साहब भाजपा की भेंट चढ़े, उपसरपंच ने भी थामा भाजपा का दामन | पुलिस ने शांतिपूर्ण मतदान के लिए निकाला फ्लैग मार्च | पुलिस ने निकाला फ्लेग मार्च | 13 मई को संपन्न होने जा रहे चुनाव में शांति एवं सुरक्षा व्यवस्था हेतु सेना का फ्लैग मार्च | एक बार फिर विक्रांत भूरिया ने प्रेसवार्ता कर उधेड़ी प्रदेश वनमंत्री नागरसिंह व भाजपा लोकसभा प्रत्याशी अनिता चौहान की बखिया | निष्पक्ष रूप से चुनाव करवाने का दावा करने वाली प्रशासन ध्यान दें शराब दुकान पर होने वाली भीड़ पर | पहला चुनाव बनाम अंतिम चुनाव, सहानुभूति लहर या महिला सशक्तिकरण...? | देश में राजनीतिक दलों की स्थिति मतलब हमाम में सब नंगे | गुजरात मॉडल की घोषणा टाय-टाय फिस्स | राजू के असल हत्यारे आखिर कौन...? पुलिस पूरे मामले का करेगी खुलासा या फिर अधर में रखेगी मामला... |

साइबर सेल के कारण कई चहरो पर छाई मुस्कान
08, Sep 2022 1 year ago

image

लाखो के गुम मंहगे मोबाइल पुलिस से साइबर सेल की मदद से किए बरामद

माही की गूंज, रतलाम।

        जिले की सायबर पुलिस द्वारा चलाए गए एक विशेष अभियान में 8 लाख रु. मूल्य के पचास मोबाइल बरामद किए गए। इन मोबाइल फोन्स को पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी द्वारा उनके धारको को लौटाया गया। जिन लोगों के गुम मोबाइल उन्हे वापस मिल गए वे लोग काफी खुश नजर आ रहे थे। मोबाइल मालिकों को उनके गम मोबाइल लौटाने के लिए पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सभागृह में एक सादा समारोह आयोजित किया गया था। इस दौरान सायबर सेल के अधिकारियों और स्वयं पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने लोगों को सायबर क्राईम से बचने के उपायों की जानकारी दी। उन्होने कहा कि, थोडी सी सतर्कता और सावधानी लोगं को बडे सायबर क्राइम से बचा सकती है। इस मौके पर सायबर सेल के अधिकारियों ने बताया कि पुलिस अधीक्षक ने गुम मोबाइल को खोजने के लिए एक विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया था। इसी क्रम में सायबर सेल ने गुम हुए मोबाइल फोन को ट्रैक करना शुरु किया। गुम हुए मोबाइलों का उपयोग प्रदेश के विभिन्न शहरों इन्दौर ,धार, मन्दसौर, नीमच, उज्जैन, शिवपुरी, झाबुआ इत्यादि शहरों में उपयोग में लाए जाने की जानकारी सायबर सेल को मिली थी। ट्रैकिंग से मिली जानकारी के आधार पर जब सायबर सेल ने इन गुम मोबाइल के उपयोगकर्ताओं से जब पूछताछ की तो इनमें से अधिकांश का कहना था कि ये मोबाइल उन्हे सडक या किसी सार्वजनिक स्थान से मिले है और अज्ञानतावश वे इनका उपयोग कर रहे थे। सभी ने पुलिस जांच में पूरा सहयोग करते हुए मोबाइल लौटा दिए। इन सभा व्यक्तियों को भविष्य में मोबाइल या अन्य लावारिस वस्तु मिलने पर उसे निकटतम थाने में जमा करने की समझाईश भी दी गई। बरामद किए गए मोबाइल फोन सैमसंग,वीवो,ओप्पो रेडमी इत्यादि कंपनियों के महंगे एन्ड्राईड मोबाइल है।

        मोबाइल खोज के इस अभियान में सायबर सेल के उपनिरीक्षक श्रवणसिंह भाटी, प्रआर लक्ष्मीनारायण सूर्यवंशी, हिम्मत सिंह, आर विपुल भावसार,मयंक व्यास, तुषार सिसौदिया, राहूल पाटीदार इत्यादि ने सराहनीय कार्य किया। इनके सराहनीय कार्य पर पुलिस अधीक्षक द्वारा इन्हे नगद पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया है। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने जनसामान्य से अपील की है कि, यदि उनका मोबाइल या कोई अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट गुम हो जाता है तो उन्हे इसकी सूचना तुरंत निकटतम थाने, पुलिस अधीक्षक कार्यालय या सायबर सेल को देना चाहिए। सायबर सेल को जितनी जल्दी ऐसी सूचना मिलती है, मोबाइल या उपकरण का पता लगाना उतना ही आसान होता है।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |