Friday, 19 ,July 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

20 माह बाद भी अपने पुनरुद्धार की बाट जोह रही है सड़क | जिला पत्रकार संघ की जिला कार्यकारिणी का हुआ स्नेह मिलन समारोह | पुलिस ने 8 घण्टे के भीतर किया महिला की निर्मम हत्या का खुलासा | शिप्रा नदी में हाथ-पैर और मुँह बंधी लाश मिली | पांच मोटरसाइकिल के साथ चोर गिरफ्तार | जन्मप्रमाण पत्र के अभाव में कई बच्चो का भविष्य अंधकार में | सुंदराबाद में होगा महिला एवं बाल हितेषी पंचायत का गठन | अणु पब्लिक स्कूल में अलंकरण समारोह की धूम | अमरनाथ यात्रा के लिए रवाना हुए तीन युवा | कृषि विभाग और पुलिस, सोयाबीन के वाहन को लेकर आमने-सामने | 'एक पेड़ मां के नाम' अभियान को लेकर किए पौधरोपण | एक पेड़ मां के नाम अभियान के तहत पुलिस विभाग ने किया पौधरोपण | ठंड-गर्मी का मौसम निकला अब कीचड़ में बैठेंगे सब्जी विक्रेता, सड़क किनारे बैठकर दुर्घटना को दे रहे न्योता | धरती हमारी माँ है, पौध रोपण कर सभी करे इसकी सेवा- न्यायाधीश श्री दिवाकर | धरती आसमां को जयकारों से गुंजायमान करते हुए अणुवत्स श्री संयतमुनिजी ठाणा 4 का थांदला में हुआ भव्य मंगल प्रवेश | पुलिस ने 24 घंटे के अंदर पकड़ा मोबाईल चोर | समरथमल मांडोत मंडी अध्यक्ष नियुक्त | जनपद पंचायत मुख्यालय पर हुआ सम्पूर्णता अभियान का शुभारंभ | आगामी त्यौहार मोहर्रम के सबंध में हुई एसडीएम कार्यालय में आयोजित हुई बैठक | सफल हुई अंतिम आराधन, कमलाबाई पीचा का संथारा सिझा |

उज्जैन की घटना को लेकर पारस सकलेचा ने कर डाली बड़ी मांग
29, Sep 2023 9 months ago

image

मुख्यमंत्री बताएं कितने दिन में बलात्कारी को फांसी होगी, 8 घंटे तक मासूम 12 किमी भटकती रही

माही की गूंज, रतलाम।

          उज्जैन के निर्भया कांड से सिद्ध हो गया है की शिवराज के इवेंट मैनेजमेंट और मॉडल रेम्प शो ने अधिकारियो को बेलगाम और कानून व्यवस्था को फटेहाल कर दिया है। यह आरोप प्रदेश कांग्रेस महासचिव, पूर्व विधायक पारस सकलेचा ने लगाया। मासूम के बलात्कारी को शिघ्र फांसी दिलाने के बयान पर सकलेचा ने पूछा कि, अभी तक कितनी बच्चीयो के बलात्कारियों को फांसी दिलवाई तथा बताए कि उज्जैन के निर्भया कांड के बलात्कारी को कितने दिन में फांसी दिलवा दी जाएगी। मुख्यमंत्री के संज्ञान मे होगा कि, पिछले 10 साल मे बच्चीयो से बलात्कार के आरोपियों को सजा की सक्सेस रेट मात्र 22% है  तथा 100 में से 78 अपराधी बरी हो रहे है। 

         सकलेचा ने मांग की है कि, महाकाल महलोक जैसे पवित्र, पावन, सिद्धक्षेत्र और अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त धर्मक्षेत्र में हुई इस शर्मनाक घटना पर गृहमंत्री को नैतिकता के आधार पर तत्काल त्यागपत दे देना चाहिए। सकलेचा ने पुछा कि,  रात्रि 2:00 बजे से प्रातः 10:15 बजे तक बच्ची बदहवास घूमती रही। तीन पुलिस थानों के 200 से 300 मीटर के फासलों से गुजरी और 1000 सीसीटीवी कैमरे खंगालने पर  एक भी पुलिस अधिकारी रात्रिकालीन गश्त में क्यों नहीं मिला...? एक भी अधिकारी पर जिम्मेदारी तय कर कार्यवाही क्यों नहीं की गई...? महाकाल महालोक के दर्शनार्थ प्रतिदिन आनेवाले डेढ़ लाख तथा पर्व विशेष पर  तीन लाख श्रद्धालुओं की सुरक्षा की क्या यही व्यवस्था है...? धर्म और भगवान को राजनीतिक हथियार बनाकर चलाने वाले को जानता  विधानसभा चुनाव में सबक जरुर सिखाएगी।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |