Monday, 16 ,May 2022
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

प्रोफेसर व उनके परिवार को मिली जान से मारने की धमकी | पहले जिलेवासियो को समस्याओं से निज़ात दिलाकर मुलभुत सुविधाएं उपलब्ध कराए, फिर मनाए गौरव दिवस मनाए- पूर्व जिलाध्यक्ष पटेल | गामड़ी पंचायत के रोजगार सहायक पर लाखों के भ्रष्टाचार का लगाया ग्रामीणों ने आरोप | भायजुमो मंडल के नवीन पदाधिकारी और सदस्यों का जिला कार्यालय पर किया स्वागत | मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा और महापूर्णाहूति के साथ हुआ विशाल भंडारे का आयोजन | सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बैकफुट पर सरकार | स्वास्थ्य विभाग की महिला कर्मचारी के जीपीएफ खाते से ढाई लाख निकाले | भगवान की स्थापना के बाद होगा भंडारे का आयोजन | ट्राले की भिडंत में युवक की मौत | बढ़ते पारे में चोरों का कहर... चोरो ने दिनदहाड़े ताले चटकाए | क्षेत्र में हिंदुत्व को जाग्रत करने वाले स्व. रुस्तम चरपोटा की प्रतिमा होगी स्थापित | माही धाम पर तीन दिवसीय श्रीराम मारुति यज्ञ और प्राण प्रतिष्ठा का आयोजन सम्पन्न | फर्जी अंकसूची लगा कर हासिल कर ली नौकरी, महिला अभ्यर्थी ने दर्ज करवाई शिकायत | लक्ष्मी उत्सव मनाने के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओ ने पंचायत भवन खोलने के लिए कहा तो रोजगार सहायक ने की गाली गलौच | धारा 144 के लागू होते हुए निकली रैली, 6 नामजद सहित अन्य पर मामला दर्ज | कॉलेज चलो अभियान अंतर्गत विद्यार्थियों को दी नई शिक्षा नीति की जानकारी | ओबीसी आरक्षण के बिना होंगे पंचायत चुनाव- सुप्रीम कोर्ट | ब्रदर प्रेम मुनिया का पावन पुरोहित अभिषेक सम्पन्न | हर्षोल्लास के साथ मनाया मां मरियम का पर्व | स्व. गौर सिंह वसुनिया की प्रथम पुण्यतथि पर किया फल वितरण |

ये कैसी दुश्मनी, दो मासूमो को भी उतार दिया मौत के घाट
09, Nov 2021 6 months ago

image

खुलासा: थाना सैलाना अंतर्गत तिहरे हत्याकांड में 6 आरोपी गिरफ्तार 
कूप से पानी पिलाने को लेकर हुए विवाद और पुराने विवाद को लेकर दिया जघन्य तिहरे हत्याकांड को अंजाम
माही की गूंज, रतलाम।
        रविवार को मृतक लक्ष्मण की पत्नी बसंती बाई भाभर मजदूरी करने घर से बाहर गई थी एवं मृतक लक्ष्मण भाभर अपने दोनों पुत्रो विशाल भाभर (13) और पुष्कर भाभर (8) के साथ अपने खेत पर कूप की जली हुई मोटर सही करने गए हुए थे। शाम 6 बजे करीबन जब बसंती बाई घर आई तब तक लक्षमण और उसके बेटे घर वापस नहीं आए थे, जिनकी खोज परिवार व ग्रामीणो द्वारा गाँव मे संभावित स्थानो पर करने पर नहीं मिले। खेत पर तलाश करने पर कूए के पास जली मोटर नहीं दिखने पर परिवार के सदस्यों व ग्रामीणो द्वारा कूप मे देखने पर कुछ संदिग्ध चीजे दिखी, जिसके उपरांत ग्रामीणो ने थाना सैलाना पर सूचना दी। सूचना पर पुलिस द्वारा कूप मे तलाश कर शवो को ग्रामीणो व गोताखोरो की सहायता से बाहर निकालने पर लक्ष्मण भाभर, विशाल भाभर और पुष्कर भाभर का शव मोटर की रस्सी मे बंधा हुआ पाया गया। प्राथमिक सूचना के आधार पर पुलिस द्वारा मर्ग पंजीबद्ध कर घटना की जांच प्रारम्भ की। पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने तुरंत टीम का गठन कर इस जघन्य अपराध की जांच शुरू की।
परिवार और पड़ोस के लोग ही निकले आरोपी
        घटना में मृत्यु का कारण प्रथम दृष्टिया संदिग्ध प्रतीत होने से घटना की गंभीरता को देखते हुए उच्च कोटि की विवेचना, साक्ष्य संकलन एवं आरोपियों की धड़ पकड़ हेतु पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा अति पुलिस अधीक्षक महोदय (सिटी) डॉ. इंद्रजीत बाकलवार के मार्गदर्शन में अनुविभागीय अधिकारी सैलाना संदीप निगवाल के निर्देशन में थाना प्रभारी सैलाना निरीक्षक एसएम सेंगर के नेत्रत्व में टीम का गठन कर कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम द्वारा उक्त शवो का पोस्ट मोर्टम कराया गया। जिसमे मृतक लक्ष्मण भाभर के सिर पर चोट होना पाई गई व शवो के मिलने की परिस्थिति व घटनास्थल पर मिले साक्ष्यों के आधार पर घटना में मृतकों की हत्या किए जाने की संभावना को अत्यधिक बल मिला। प्रकरण में परिजन एवं ग्रामीणों से पूछताछ करने कर ज्ञात हुआ कि, मृतक लक्ष्मण भाभर का ग्राम देवरुन्डा स्थित खेती की जमीन व कूप से खेत में पानी पिलाने की बात को लेकर मृतक के काका पूनमचंद उर्फ पुंजा भाभर एवं पडोसी रूपली खराड़ी, दिलीप उर्फ दीपू उर्फ दूलसिंह खराडी, फूलजी गामड, कमलेश उर्फ कमल गामड से विवाद चला आ रहा था। इन सभी के द्वारा मृतक लक्ष्मण से कूप मे मोटर डालने की बात को लेकर धन तेरस की दिन भी विवाद किया गया था। प्राप्त जानकारी अनुसार शंका के आधार पर पुलिस द्वारा 12 लोगो को गिरफ्तार कर पूछताछ करना प्रारम्भ किया गया।
घटना का कारण एवं तरीका 
        वारदात में सभी साक्षियों एवं संदिग्धों से पूछताछ के आधार पर मृतक लक्ष्मण, विशाल, पुष्कर सभी की हत्या कूप से खेत में पानी पिलाने एवं जमीन संबंधी रंजिश में मृतक लक्ष्मण भाभर के काका पुंजा उर्फ पूनमचंद पिता नागूजी भाभर निवासी नयाटापरा थाना सैलाना, रूपली पति रूपा खराडी, पीरू पिता रूपा खराडी, दिलीप उर्फ दीपू उर्फ दूलसिंह पिता रूपा खराड़ी, फूलजी पिता नानजी गामड, कमलेश उर्फ कमल पिता फूलजी गामड सभी निवासी देवरूण्डा थाना सैलाना द्वारा मृतक लक्ष्मण भाभर के सिर में डंडे से चोट मारकर दोनों हाथ रस्सी से पानी की मोटर पंप के साथ बाधकर तथा मृतक के पुत्र विशाल के दोनो पाँव व पुष्कर के कमर में रस्सी बांधकर पानी की मोटर (पम्प) से बांधकर सभी की हत्या करने की नियत से खेत के कच्चे कूप में फेका और कूप में पानी भरा होने से लक्ष्मण, विशाल व पुष्कर की मृत्यु हो गई। परिवारजनो की शंका और चश्मदीद गवाहो की मदद से पुलिस को गंभीर घटना के खुलासा करने मे सहायता मिली। 
आरोपियों के विरुद्ध थाना सैलाना मे अपराध क्रमांक  362/21 धारा 302, 201, 34 भादवि के अंतर्गत पंजीबद्ध कर सभी आरोपीओ को गिरफ्तार किया गया है। 
        पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने बताया कि, प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए इस मामले को जघन्य व सनसनीखेज प्रकरण के रूप मे चिन्हित किया गया है। आरोपीयो के खिलाफ वैज्ञानिक साक्ष्य संकलित करने हेतु प्रकरण मे एफएसएल और सायबर की सहायता ली जा रही है, जिससे आरोपीयो को कड़ी सज़ा दिलाई जा सके।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |