Thursday, 20 ,June 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

अंचल के चंदन का नया सीरियल शुरू | रातभर चला पुलिस का नाईट कॉम्बिंग ऑपरेशन | जिले में हो रहे अवैध शराब परिवहन को लेकर चूडी और साडी कांग्रेस विधायक नेता प्रतिपक्ष के साथ विधानसभा में सीएम को करेंगी भेंट | जिले मे शराब माफियाओ के आगे बेबस हूई पूलिस, अधिकारीयो के संरक्षण मे होता बेखौफ अवैध शराब का परिवहन | गंगा दशमी के पूर्व सियाराम आश्रम पर संतो का भंडारा | जल गंगा संवर्धन अभियान के तहत बावड़ी की सफाई प्रारंभ | पूज्य पुंज पुण्यशीलाजी महासतियों का नगर में मंगल प्रवेश | पर्यावरण संवर्धन के उद्देश्य से दाऊदी बोहरा कब्रिस्तान में किया पौधारोपण | लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा की विधानसभा समीक्षा बैठक संपन्न | अलग-अलग हुई दुर्घटना में एक की मृत्यु दो जख्मी | आम्बुआ-जोबट तिराहे मार्ग पर बेतरतीब खड़े रहते हैं वाहन | सामने से आ रहे वाहन को बचाने में कोल्ड्रिंक से भरा वाहन पलटा, दुलाखेड़ी-पेटलावद की बीच हुआ हादसा | धमकी देकर अवैध वसुली करने वाले आरोपी को हथियार सहित पुलिस ने 48 घंटे मे किया गिरफ़्तार | मुख्यमंत्री डॉ. यादव मां शिप्रा को चुनरी करेंगे अर्पित | जल गंगा संवर्धन अभियान के अंर्तगत सहभागिता से श्रमदान | भोला भण्डारा परिवार ने कथा वाचक कान्हा कौशिकजी का किया स्वागत | पापा स्कॉर्पियो दिला दो… नहीं मिली तो खाया जहर, इकलौते बेटे की गई जान | हम फाउंडेशन भारत की मातृ शक्ति ने किया पौधरोपण | 60 लीटर अवैध शराब के साथ एक आरोपी गिरफ्तार | प्रतिभावान बच्चों को भगवत गीता और पौधे देकर दिया पर्यावरण संरक्षण और संस्कृति से जुड़ने का संदेश |

निलम्बन आदेश मिलने के बाद आरक्षक ने पुलिस के व्हाट्सएप ग्रुप में प्रभारी मंत्री के सामने आख़िर क्यो दी आत्मदाह करने की धमकी!
24, Jul 2021 2 years ago

image

अनुशासनहीनता के चलते एसपी ने सेवा से पृथक कर दिया था, जाने आखिर क्या है मामला
माही की गूंज, रतलाम।
       जिले के सरवन निवासी बंशीलाल गूर्जर ने विगत मंगलवार को जनसुनवाई में उपस्थित होकर सरवन में पदस्थ आरक्षक रतन कोल्हे के विरुद्ध भ्रष्टाचार की शिकायत दी की थी। आवेदक ने आरक्षक रतन कोल्हे द्वारा रिश्वत मांगने के लिए की गई मोबाइल कॉल की रिकॉर्डिंग भी शिकायत के साथ प्रस्तुत की थी। रिकॉर्डिंग के मुताबिक रतन कोल्हे ने आवेदक से पहले शराब की दो बाटले मांगी, इसके बाद आरक्षक ने अपने मकान का किराया भरने के लिए भी बंशीलाल पर दबाव बनाया और साथ ही एक मन्दिर निर्माण के लिए चन्दा देने का भी दबाव बनाया। आरक्षक रतन कोल्हे ने आवेदक बंशीलाल को यह धमकी भी दी थी कि, यदि उसने रिश्वत की रकम नही दी तो वह उसे एससी-एसटी एक्ट के झूठे प्रकरण में फंसा देगा।
       शिकायत की जांच के बाद एसपी गौरव तिवारी ने आरक्षक रतन कोल्हे को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया। निलम्बन की जानकारी मिलने के बाद आरक्षक रतन कोल्हे ने औद्योगिक क्षेत्र पुलिस थाने के व्हाट्सएप ग्रुप में रात करीब साढे 9 बजे एक मैसेज पोस्ट किया, जिसमें उसने लिखा था कि, वह एसपी गौरव तिवारी के आदेश के खिलाफ प्रभारी मंत्री के सामने आत्मदाह करेगा। आरक्षक रतन कोल्हे द्वारा आत्मदाह का मैसेज पोस्ट किए जाने के बाद उसे ढूंढा गया, लेकिन उसका मोबाइल स्विच आफ हो गया था और वह ढूंढने से भी कहीं मिल नहीं रहा था। पुलिसकर्मियों को लापता हो चुके निलम्बित आरक्षक का पता अगले दिन सुबह मिल पाया। आरक्षक द्वारा एसपी के आदेश के विरुद्ध आत्मदाह की धमकी देने को गंभीर कदाचरण और अनुशासनहीनता मानते हुए एसपी गौरव तिवारी ने उसे सेवा से पृथक करने सम्बन्धी नोटिस भी उसे प्रेषित किया। आरक्षक ने काफी मशक्कत के बाद नोटिस लिया, लेकिन उसके स्पष्टीकरण को संतोषजनक नहीं मानते हुए एसपी गौरव तिवारी ने उसे सेवा से पृथक करने का आदेश जारी कर दिया। 
      एसपी ने अपने आदेश में कहा है कि, निलम्बित आरक्षक ने अपने कृत्य से पुलिस के प्रति आम जनता में जो विश्वास है उसे आहत करते हुए पुलिस के सम्मान व छबि को धूमिल किया है।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |