Wednesday, 28 ,September 2022
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

आज रात होगी मतदाताओ रिझाने की अंतिम कोशिश, वार्डो के चुनाव में कोई नही पहुँच पा रहा अंतिम परिणाम तक | थाना प्रभारी सजंय रावत को मुख्यमंत्री की सभा की व्यवस्था संभालना पड़ा भारी | अंतिम दिन बड़ी संख्या में भागवत कथा श्रवण करने पहुँचे भक्त | शांति समिति की बैठक सम्पन्न | सहायक सचिव के पिता की जहर पीने से हुई मौत | चुनावी दौरे पर आए सीएम से पंचाल समाज ने लगाई गुहार | सीएम चौहान ने भाजपा पार्षद उम्मीदवारों के लिए चुनावी सभा को किया संबोधित | जिले में पहुंचे सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जन सेवा अभियान में हिस्सा लेने के बाद जिला मुख्यालय में की चुनावी सभा | चुनाव प्रचार के अंतिम दिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री जनसेवा शिविर में नहीं जाकर जनता से मांगेंगे माफी या अलीराजपुर की चुनावी सभा को करेंगे स्थगित...? | कैलाश विजयवर्गीय ने भाजपा के पक्ष में किया रोड़ शो | एमडीएच स्कूल में पूरे सत्र बच्चों को नही मिल रहे कॉमर्स के शिक्षक, बच्चो की शिक्षा हो रही प्रभावित | हॉइ वॉल्टेज मुकाबला वार्ड नम्बर एक मे माहौल बदलने उतरी भाजपा | अध्यक्ष पद के लिए महत्वपूर्ण वार्ड क्र. 1, तीन पार्टी के उम्मीदवार तो एक निर्दलीय मैदान में | जिस भगवान ने हमें बेहिसाब दिया उसी को हम माला की गिनती से भजते हैं- पंडित शिव गुरु शर्मा | करप्शन पर चीन की सख्ती: पूर्व न्याय मंत्री को मौत की सजा | नगर में चाहुमुँखी विकास एवं स्वच्छता के साथ नपा को आदर्ष बनाने का वादा | 24 सितम्बर को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान अलीराजपुर व बुराहनपुर जिले में चुनावी सभाओं को करेंगे सम्बोधित | मां बच्चे की पहली गुरु होती है वह जैसा सिखाती है वैसा वह सीखता है- पंडित शिव गुरु शर्मा | कथा सुनने से धन नहीं आनंद मिलता है- पंडित शिवगुरु जी | कौन असली, कौन नकली...? |

निलम्बन आदेश मिलने के बाद आरक्षक ने पुलिस के व्हाट्सएप ग्रुप में प्रभारी मंत्री के सामने आख़िर क्यो दी आत्मदाह करने की धमकी!
24, Jul 2021 1 year ago

image

अनुशासनहीनता के चलते एसपी ने सेवा से पृथक कर दिया था, जाने आखिर क्या है मामला
माही की गूंज, रतलाम।
       जिले के सरवन निवासी बंशीलाल गूर्जर ने विगत मंगलवार को जनसुनवाई में उपस्थित होकर सरवन में पदस्थ आरक्षक रतन कोल्हे के विरुद्ध भ्रष्टाचार की शिकायत दी की थी। आवेदक ने आरक्षक रतन कोल्हे द्वारा रिश्वत मांगने के लिए की गई मोबाइल कॉल की रिकॉर्डिंग भी शिकायत के साथ प्रस्तुत की थी। रिकॉर्डिंग के मुताबिक रतन कोल्हे ने आवेदक से पहले शराब की दो बाटले मांगी, इसके बाद आरक्षक ने अपने मकान का किराया भरने के लिए भी बंशीलाल पर दबाव बनाया और साथ ही एक मन्दिर निर्माण के लिए चन्दा देने का भी दबाव बनाया। आरक्षक रतन कोल्हे ने आवेदक बंशीलाल को यह धमकी भी दी थी कि, यदि उसने रिश्वत की रकम नही दी तो वह उसे एससी-एसटी एक्ट के झूठे प्रकरण में फंसा देगा।
       शिकायत की जांच के बाद एसपी गौरव तिवारी ने आरक्षक रतन कोल्हे को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया। निलम्बन की जानकारी मिलने के बाद आरक्षक रतन कोल्हे ने औद्योगिक क्षेत्र पुलिस थाने के व्हाट्सएप ग्रुप में रात करीब साढे 9 बजे एक मैसेज पोस्ट किया, जिसमें उसने लिखा था कि, वह एसपी गौरव तिवारी के आदेश के खिलाफ प्रभारी मंत्री के सामने आत्मदाह करेगा। आरक्षक रतन कोल्हे द्वारा आत्मदाह का मैसेज पोस्ट किए जाने के बाद उसे ढूंढा गया, लेकिन उसका मोबाइल स्विच आफ हो गया था और वह ढूंढने से भी कहीं मिल नहीं रहा था। पुलिसकर्मियों को लापता हो चुके निलम्बित आरक्षक का पता अगले दिन सुबह मिल पाया। आरक्षक द्वारा एसपी के आदेश के विरुद्ध आत्मदाह की धमकी देने को गंभीर कदाचरण और अनुशासनहीनता मानते हुए एसपी गौरव तिवारी ने उसे सेवा से पृथक करने सम्बन्धी नोटिस भी उसे प्रेषित किया। आरक्षक ने काफी मशक्कत के बाद नोटिस लिया, लेकिन उसके स्पष्टीकरण को संतोषजनक नहीं मानते हुए एसपी गौरव तिवारी ने उसे सेवा से पृथक करने का आदेश जारी कर दिया। 
      एसपी ने अपने आदेश में कहा है कि, निलम्बित आरक्षक ने अपने कृत्य से पुलिस के प्रति आम जनता में जो विश्वास है उसे आहत करते हुए पुलिस के सम्मान व छबि को धूमिल किया है।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |