Wednesday, 22 ,May 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

जिन शासन का मनाया 2580वां स्थापना दिवस | ग्रामीण अंचलों में बनी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क पर बेखोफ दौड़ रहे ओवरलोड डम्फर, जिम्मेदार नहीं कर रहे कोई कार्रवाई | वरिष्ठ नागरिक पेंशनर्स एसोसिएशन की बैठक का हुआ आयोजन | सांसद की माताजी का निधन, भाजपा में शोक की लहर | श्रीमद् भागवत कथा के चौथे दिन भजनों पर थिरके भक्त, बही भागवत गंगा | लोकसभा चुनाव जोबट विधानसभा क्षेत्र के ग्राम आम्बुआ में शांति पूर्वक संपन्न | चौथे चरण का मतदान सम्पन्न, सैलाना विधानसभा में सबसे ज्यादा मतदान | ग्रीष्मकालीन जैन आवासीय धार्मिक संस्कार शिविर का आयोजन 14 से 19 को पेटलावद में | गुरुदेव की निश्रा में 300 वर्षीतप आराधकों ने किए पारणें | सरपंच पति के साथ 6 आरोपीयो के विरुद्ध 4 व्यक्तियों की हत्या करने का मामला हुआ दर्ज | कांग्रेस का हूं कांग्रेस का रहूंगा कहने वाले सरपंच साहब भाजपा की भेंट चढ़े, उपसरपंच ने भी थामा भाजपा का दामन | पुलिस ने शांतिपूर्ण मतदान के लिए निकाला फ्लैग मार्च | पुलिस ने निकाला फ्लेग मार्च | 13 मई को संपन्न होने जा रहे चुनाव में शांति एवं सुरक्षा व्यवस्था हेतु सेना का फ्लैग मार्च | एक बार फिर विक्रांत भूरिया ने प्रेसवार्ता कर उधेड़ी प्रदेश वनमंत्री नागरसिंह व भाजपा लोकसभा प्रत्याशी अनिता चौहान की बखिया | निष्पक्ष रूप से चुनाव करवाने का दावा करने वाली प्रशासन ध्यान दें शराब दुकान पर होने वाली भीड़ पर | पहला चुनाव बनाम अंतिम चुनाव, सहानुभूति लहर या महिला सशक्तिकरण...? | देश में राजनीतिक दलों की स्थिति मतलब हमाम में सब नंगे | गुजरात मॉडल की घोषणा टाय-टाय फिस्स | राजू के असल हत्यारे आखिर कौन...? पुलिस पूरे मामले का करेगी खुलासा या फिर अधर में रखेगी मामला... |

दो पक्षो में खूनी संघर्ष, कई लोग घायल
12, Apr 2021 3 years ago

image



मामूली विवाद ने पकड़ा तूल, अचानक भीड़ ने लोगों पर किया हमला, बीच बचाव में आए लोग भी घायल

स्थिति नियंत्रण में, पुलिस ने प्रकरण किया दर्ज, माहौल बिगड़ने की आशंका

माही की गूंज, रतलाम

    बीती रात जिले के रानीसिंग के एक फलिए में दो पक्षो के बीच खूनी संघर्ष में कई लोग घायल हो गए, अचानक हुए हमले के बाद लोगो को पहले लुट की आशंका हुई, लेकिन बाद में मामला किसी दो तीन दिन पुराने विवाद को लेकर एक नाराज़ पक्ष ने योजनाबद्ध तरीके से हमला कर कई लोगो को गंभीर चोट पहुँचा दी, बीच बचाव में आए पड़ोसियों को भी भीड़ के रूप में आए हमलावरों ने मारपीट की। देर रात बड़ी संख्या में पुलिस बल ने मौके पर पहुँच कर घायलों को अस्पताल पहुचाया, थाना रावटी में पीड़ित पक्ष की रिपोर्ट पर  विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है । हरिराम पिता रणछोड़ गामड रिपोर्टकर्ता ने अपनी रिपोर्ट ने बताया कि, ग्राम लाम्बीसादड़ रानीसिंह में रहता हूँ तथा मैं ग्राम रानीसिंह में लुणा गरवाल की किराए से दुकान लेकर एमपी ऑनलाईन की दुकान चलाता हूँ । मेरी दुकान के पास हीरालाल पिता रणछोड़ गामड निवासी सेतुतपाड़ा का मकान निर्माण का काम चल रहा था ।  11 अप्रेल को मैं अपनी दुकान में था तभी रात करीबन सड़े 10 बजे हीरालाल गामड़ के मकान तरफ जोर-जोर से चिल्लाने की आवाज आई तो मैं दौड़कर हीरालाल गामड़ के मकान के पास गया तो देखा वहाँ पर ग्राम उण्डवा थाना बिलपांक के दीपक पिता मागीलाल गुर्जर, संजय पिता मांगीलाल गुर्जर एवं रोशन पिता देवीलाल गुर्जर और अन्य उनके साथी करीबन 10 से 15 लोग एकमत होकर हीरालाल गामड़ व उसके लडके गौरव गामड़ को नंगी-नंगी गालियाँ दे रहे थे और भीलडो को आज तो जान से ही खत्म कर दो कहकर इन लोगो ने हीरालाल व गौरव के साथ जान से मारने की नियत से लट्ठों और लोहे की राड़ एवं तलवार से मारपीट कर प्राणघातक हमला कर दिया । जिससे हीरालाल गामड़ को बाय पैर में, सिर में व उल्टे हाथ में व शरीर में चोटे लगी तथा गौरव गामड़ को सिर में, मुँह में, सीधे हाथ में व शरीर में चोटे लगी । हीरालाल मोके पर ही बेहोश हो गया था । कृष्णपालसिंह सोनगरा ने इन लोगो को मारपीट करने से मना किया तो इन लोगों ने कृष्णपालसिंह सोनगरा के मकान के सामने खिड़की का काँच तोड़ दिए । मौके पर मानसिह गरवाल, हवजी गरवाल, तेजपाल मुनिया, सुन्दर लोहार ने आकर बीच बचाव किया और 100 नम्बर पर फोन कर पुलिस को बुलाया तो ये सभी भागने लगे और भागते हुए बोले कि, आज तो तुम बच गए आईदा कभी मिले तो तुम लोगों को जान से खत्म कर देंगे कहकर जान से मारने की धमकी देकर उनकी मोटर साइकिल व पीकअप में बैठकर भाग गए । हीरालाल व गौरव को 108 एम्बुलेंस से रतलाम अस्पताल ले गए। दीपक गुर्जर व इनके सभी साथी जानते थे कि हीरालाल गामड़ व गौरव गामड जाति के आदिवासी भील हैं फिर भी इन लोगों ने जानबुझकर माँ बहन की नगी-नगी गालियाँ देकर जाति सूचक शब्दो भीलड़ों कहकर अपमानित कर जान से मारने की नियत से मारपीट कर प्राणघातक चोटे पहुचाई हैं । पुलिस ने हरिराम की रिपोर्ट पर आरोपियों पर  आईपीसी की धारा 294, 323, 324, 307,  506, 427, 34 और अनुसूचित जनजाति अधिनियम 1989 की धारा 3(1)(द), 3(1)(छ) और 3(2)(वीए) के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया है ।

माहौल बिगड़ने की आशंका , प्रर्दशन की तैयारी

     घटना के बाद ग्राम रानीसिंग के ग्रामीणों में जबरदस्त रोष व्याप्त है , मिली जानकारी के अनुसार उक्त घटना को लेकर प्रर्दशन की तैयारी है जिससे स्थिति बिगड़ने की आशंका है । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आज को आदिवासी समाज मे विवाह का दौर था जिसको देखते हुए प्रर्दशन को टाला गया हैं जो मंगलवार को संभवित हो सकता है और जान लेवा हमलावरों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की जायेगी, रानीसिंग में अगर स्थिति बिगड़ती है तो भारी पुलिस बल को मोर्चा संभाला पड़ सकता है । घटना के बाद केवल आदिवासी समाज ही नही बल्कि रानीसिंग के सभी वर्गों में भारी रोष व्याप्त है ।




माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |