Thursday, 20 ,June 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

अंचल के चंदन का नया सीरियल शुरू | रातभर चला पुलिस का नाईट कॉम्बिंग ऑपरेशन | जिले में हो रहे अवैध शराब परिवहन को लेकर चूडी और साडी कांग्रेस विधायक नेता प्रतिपक्ष के साथ विधानसभा में सीएम को करेंगी भेंट | जिले मे शराब माफियाओ के आगे बेबस हूई पूलिस, अधिकारीयो के संरक्षण मे होता बेखौफ अवैध शराब का परिवहन | गंगा दशमी के पूर्व सियाराम आश्रम पर संतो का भंडारा | जल गंगा संवर्धन अभियान के तहत बावड़ी की सफाई प्रारंभ | पूज्य पुंज पुण्यशीलाजी महासतियों का नगर में मंगल प्रवेश | पर्यावरण संवर्धन के उद्देश्य से दाऊदी बोहरा कब्रिस्तान में किया पौधारोपण | लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा की विधानसभा समीक्षा बैठक संपन्न | अलग-अलग हुई दुर्घटना में एक की मृत्यु दो जख्मी | आम्बुआ-जोबट तिराहे मार्ग पर बेतरतीब खड़े रहते हैं वाहन | सामने से आ रहे वाहन को बचाने में कोल्ड्रिंक से भरा वाहन पलटा, दुलाखेड़ी-पेटलावद की बीच हुआ हादसा | धमकी देकर अवैध वसुली करने वाले आरोपी को हथियार सहित पुलिस ने 48 घंटे मे किया गिरफ़्तार | मुख्यमंत्री डॉ. यादव मां शिप्रा को चुनरी करेंगे अर्पित | जल गंगा संवर्धन अभियान के अंर्तगत सहभागिता से श्रमदान | भोला भण्डारा परिवार ने कथा वाचक कान्हा कौशिकजी का किया स्वागत | पापा स्कॉर्पियो दिला दो… नहीं मिली तो खाया जहर, इकलौते बेटे की गई जान | हम फाउंडेशन भारत की मातृ शक्ति ने किया पौधरोपण | 60 लीटर अवैध शराब के साथ एक आरोपी गिरफ्तार | प्रतिभावान बच्चों को भगवत गीता और पौधे देकर दिया पर्यावरण संरक्षण और संस्कृति से जुड़ने का संदेश |

दायित्वों के निर्वहन के लिए कलेक्टर ने झरार की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका करी कि प्रशंसा
25, Feb 2021 3 years ago

image

माही की गूंज, बड़वानी
     जिले के सर्वाधिक दूरस्थ एवं दुर्गम क्षेत्र झरार की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सुश्री दुर्गा रंदा एवं आंगनवाड़ी सहायिका सुश्री सिरकु बाई की प्रशंसा कलेक्टर शिवराजसिंह वर्मा ने ट्वीट करके की है। 
      परियोजना अधिकारी पाटी प्रकाश रंगशाही ने बताया कि, जिले के सबसे पिछड़े विकासखण्ड पाटी के दूरस्थ एवं दुर्गम क्षेत्र झरार की आंगनवाड़ी में संचालित गतिविधियों से अभिभूत कलेक्टर ने अपने ट्वीटर अकाउंट से ट्वीट कर यहाॅ पदस्थ आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका के प्रयासों की प्रशंसा की है। वहीं उम्मीद जताया है कि इनसे प्रेरणा लेकर जिले की अन्य आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका भी इसी प्रकार के प्रयास कर अपने पदीन दायित्वों का निर्वहन करेंगी। 
      परियोजना अधिकारी पाटी से प्राप्त जानकारी अनुसार झरार की उक्त आंगनवाड़ी दूरस्थ स्थान पर स्थित होने के बावजूद आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका के कारण नियमित संचालित होती है। जिसके कारण इस दूरस्थ क्षेत्र की गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को आंगनवाड़ी केन्द्र से मिलने वाले लाभ सतत मिल रहे है, वहीं बच्चों को पूरक पोषण आहार के साथ-साथ नर्सरी की शिक्षा भी मिल रही है।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |