Tuesday, 16 ,April 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

थांदला माटी के संत 108 श्रीपुण्यसागरजी महाराज 19 वर्षों बाद करेंगें थांदला में मंगल प्रवेश, संघजनों में अपार उत्साह | ईद-उल-फितर की नमाज में उठे सैकड़ों हाथ, देश में अमन चैन, एकता व खुशहाली की मांगी दुआएं | ईदगाह से नमाज अदा कर मनाया ईद उल फितर का त्योहार, दिनभर चला दावतों का दौर | आबकारी विभाग द्वारा अवैध मदिरा के विक्रय के विरुद्ध निरंतर कार्यवाही जारी | श्री सिद्धेश्वर रामायण मंडल ने किया गांव का नाम रोशन | नागरिक सहकारी बैंक झाबुआ के भ्रत्य को अर्पित की श्रद्धांजलि | चुनरी यात्रा का जगह-जगह हुआ स्वागत | रक्तदान कैंप का हुआ आयोजन | रुपए लेने वाले दो व्यक्तियों का मंदिर में प्रवेश प्रतिबंधित, पुलिस कॉन्स्टेबल निलंबित | बस में मिली 1 करोड़ 28 लाख रुपए की नगदी एवं 22 किलो 365 ग्राम चांदी की सिल्ली | मानवता फिर हुई शर्मसार | आई गणगौर सखी देवा झालरिया आस्था का पर्व | दोहरे हत्याकाण्ड का में फरार सभी 14 आरोपियो की संपत्ति कुर्की हेतु की जाएगी कार्यवाही | नवीन शिक्षण सत्र के प्रथम दिन विद्यार्थियों को तिलक लगाकर किया स्वागत | श्रीसंघ ने कान गुरुदेव के उपकारों का याद करते हुए दी श्रद्धांजलि | बड़े हर्ष के साथ मनाई शीतला सप्तमी | रतलाम-झाबुआ संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार कांतिलाल भूरिया का किया स्वागत | धूमधाम से मनाया ईस्टर पर्व | शीतला सप्तमी मनाने के लिए प्रजापति समाज ने नगर में निकाला विशाल वरघोड़ा | पुलिस विभाग ने लाखों की अवैध शराब वाहन सहित की जप्त, वाहन चालक पुलिस को देख वाहन छोड़ भाग निकला |

प्राकृतिक व कृत्रिम संसाधनों का सीमित उपयोग ही भावी पीढ़ी को सुरक्षित भविष्य दे सकता हैं- रेंजर रावत
02, Jan 2023 1 year ago

image

वन विभाग के "अनुभूति कैंप" में स्कूली बच्चों ने प्राप्त की कई जानकारी

माही की गूंज, चं.शे. आजाद नगर।

        भावी पीढ़ी के लिए यदि प्राकृतिक व कृत्रिम संसाधनों को बचाए रखना हैं तो वर्तमान पीढ़ी को उन संसाधनों को सीमित मात्रा में उपयोग की आदत डालना होगी। साथ ही ऐसे संसाधनों का बनाएं रखने के लिए रिसाईकल व रिचार्ज जैसी वस्तु के उपयोग को बढ़ावा देना होगा। पानी को बचाना हैं तो बारिश का पानी हो या घर का पानी उसे संरक्षित करना सीखे। वन्य जीव, पशु-पक्षियों को बचाना हैं तो उनके लिए उनके अनुकूल जंगल को बचाना व बढा़ना होगा। बिजली को बचाना हैं तो उसके दुरूपयोग को रोकना होगा। प्रकृति को बचाना हैं तो प्लास्टिक व डीजल ,पेट्रोल के उपयोग को सीमित करना होगा। 

        उक्त बात वन विभाग के द्वारा अलीराजपूर जिले के मिनी कश्मीर कठ्ठीवाडा़ के सघन वन क्षेत्र में वन विभाग की ओर से चाटलिया पानी में आयोजित अनुभूति कैंप में उत्कृष्ट व मॉडल विद्यालय के छात्र-छात्राओं से रेंजर संदीप रावत ने कही।

        वन विभाग के अनुभूति कैंप के तहत उत्कृष्ट विद्यालय एवं मॉडल स्कूल चंद्रशेखर आजाद नगर के करीब 120 बच्चों रेंजर संदीप रावत के नेतृत्व में कठ्ठीवाड़ा क्षेत्र के सघन वन का भ्रमण किया। जहां पर वन विभाग की ओर से रेंजर रावत व अनुभूति प्रेरक सुनिल डुडवे व महेश सुलिया ने बताया कि, इस वन क्षेत्र में कौन-कौन से पेड़ बहुतायत मात्रा में पाए जाते हैं तथा औषधि रूप में इनके क्या उपयोग हैं। वन क्षेत्र में पाए जाने वाले वन्यजीवों के पदचिन्हों व मल को दिखाकर वन क्षेत्र में तेंदुए की पुष्टि की।

        अनुभूति कैंप के दौरान वन भ्रमण के पश्चात् वन्यजीव एवं वनों पर आधारित क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें उत्कृष्ट विद्यालय चंद्रशेखर आजाद नगर छात्र शैलेष पंजू द्वारा प्रथम स्थान प्राप्त किया। जबकि मॉडल विद्यालय के छात्र रोहित मावि ने द्वितीय व नवीन भूरिया ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

        एक दिवसीय शिविर का शुभारंभ मां सरस्वती की तस्वीर के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन व माल्यार्पण के साथ रेंजर संदीप रावत, उत्कृष्ट विद्यालय की ओर से हेमेन्द्र गुप्ता, रंजना भाबर, छात्रा शारदा डावर व छात्र कर्तव्य सिंगनाथ ने किया। शिविर में डिप्टी रेंजर किशन सिंह बारिया, सूरजसिंह बोड़ाना, अनुभूति प्रेरक सुनील डुडवे, महेश सुलिया, वन रक्षक दिवान कटारा, बसंत चौहान, रिलेश चौहान, केएस बघेल, अन्ना भंवर, अरुणा बामनिया, राकेश निनामा के साथ उत्कृष्ट विद्यालय व माॅडल स्कूल की ओर से शिक्षक हेमेन्द्र गुप्ता, रमेश डावर, रतन सिंह रावत, सूरज चौहान, कमलेश मेढा़, लक्ष्मण सिंह चंगोड़, प्रिती मोढिया, शेहनाज शेख सहित वन विभाग के अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे। शिविर में उपस्थित छात्र-छात्राओं को भोजन पश्चात क्वीज प्रतियोगिता में विजेता छात्रों को प्रशस्ति पत्र व शील्ड देकर सम्मानित किया। 

        कार्यक्रम के अंत में छात्र-छात्राओं को वन्य जीव संरक्षण, वनों के संरक्षण के साथ-साथ प्राकृतिक व कृत्रिम संसाधनों के सीमित उपयोग की शपथ दिलाई गई। 


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |