Friday, 19 ,July 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

20 माह बाद भी अपने पुनरुद्धार की बाट जोह रही है सड़क | जिला पत्रकार संघ की जिला कार्यकारिणी का हुआ स्नेह मिलन समारोह | पुलिस ने 8 घण्टे के भीतर किया महिला की निर्मम हत्या का खुलासा | शिप्रा नदी में हाथ-पैर और मुँह बंधी लाश मिली | पांच मोटरसाइकिल के साथ चोर गिरफ्तार | जन्मप्रमाण पत्र के अभाव में कई बच्चो का भविष्य अंधकार में | सुंदराबाद में होगा महिला एवं बाल हितेषी पंचायत का गठन | अणु पब्लिक स्कूल में अलंकरण समारोह की धूम | अमरनाथ यात्रा के लिए रवाना हुए तीन युवा | कृषि विभाग और पुलिस, सोयाबीन के वाहन को लेकर आमने-सामने | 'एक पेड़ मां के नाम' अभियान को लेकर किए पौधरोपण | एक पेड़ मां के नाम अभियान के तहत पुलिस विभाग ने किया पौधरोपण | ठंड-गर्मी का मौसम निकला अब कीचड़ में बैठेंगे सब्जी विक्रेता, सड़क किनारे बैठकर दुर्घटना को दे रहे न्योता | धरती हमारी माँ है, पौध रोपण कर सभी करे इसकी सेवा- न्यायाधीश श्री दिवाकर | धरती आसमां को जयकारों से गुंजायमान करते हुए अणुवत्स श्री संयतमुनिजी ठाणा 4 का थांदला में हुआ भव्य मंगल प्रवेश | पुलिस ने 24 घंटे के अंदर पकड़ा मोबाईल चोर | समरथमल मांडोत मंडी अध्यक्ष नियुक्त | जनपद पंचायत मुख्यालय पर हुआ सम्पूर्णता अभियान का शुभारंभ | आगामी त्यौहार मोहर्रम के सबंध में हुई एसडीएम कार्यालय में आयोजित हुई बैठक | सफल हुई अंतिम आराधन, कमलाबाई पीचा का संथारा सिझा |

पीएचई विभाग की लापरवाही के चलते क्षैत्र के ग्रामीण आदिवासी पानी की किल्लत को लेकर परेशान
Report By: खलील मंसूरी 21, Apr 2023 1 year ago

image

फलियो मे दो-दो माह से हेन्डपंप बंद तो कही पानी की टंकी निर्माण होने के बाद भी पानी का सप्लाई बंद

माही की गूंज, उदयगढ। 

         उदयगढ विकास खण्ड के ग्राम पंचायत मोटा उमर मे  मुख्यालय पर लाखो रुपए व्यय के बाद शासन द्वारा  नलजल योजना अन्तर्गत पानी की टंकी निर्माण के साथ ही फलियो मे पाईप लाईन बिछाकर पानी की सुविधा आदिवासीयो को मुहैया करवाई जाना थी। इस संबध मे  पानी की टंकी निर्माण सहित फलियो मे पाईप लाईन का कार्य पुर्ण बताया जाकर ग्राम मोटा उमर मे दो माह पुर्व   पानी सप्लाई को लेकर विधिवत नलजल योजना का शुभारंभ कर दिया गया। किन्तु ग्राम मोटा उमर के आदिवासी ग्रामीणजन की माने तो उनका कहना है कि, नलजल योजना का उद्घाटन कर योजना को जरुर चालु बताई जा रही है। पर योजना के शुभारंभ के बाद आजतक पानी टंकी से सप्लाय नही किया जा रहा है?

         इसी गाव के गाली मवडी फलिया के आदिवासी महिला व पुरुषो जेसै बबली दिपक, भावली दिपक, मंजु मगन, करमबाई प्रताप, रमतु पागु, झुमलीबाई लोगसिह, केरी हरसिह, पानबाई मगन, डुढीबाई भुरला सहित प्रकाश नहारसिह, डुगरिया मगन, लोगसिह गेंदा, खुमसिह केकडिया, नरसिह मानसिह, बोदरसिह मगन, मगनसिह सेकडा, अमरसिह, कुवरसिह, इडिया, लोगसिह, कोदरसिह मगन, दिनेश जोहरसिह, दिपक लोगसिह, लोगसिह  गेंदा, नारायण सिह भुरला, मुकेश छगन, राजु डुगरिया, मेहरसिह केकडिया, सुमेरसिह छगन, केकडिया जोहरसिह आदि ने बताया कि, नलजल योजना शुभारंभ होने के बाद अभी तक फलिये मे पानी नही पहुचा और आज तक योजना का लाभ नही मील पा रहा है। जबकि हम फलिये के करीब 28 से 30 आदिवासी परिवार फलिये मे लगे चार हेन्डपंप से ही अपना जैसे-तैसे काम चला रहे है। उक्त हेन्डपंप आज करीब दो माह से बंद पडे हुए  है।जो हेन्डपंप चालु है उसमे पानी का स्तर निचे चले जाने काफी देर तक हेन्डपंप हलाने के बाद भी पानी टोटी मे नही आ रहा है। जिससे पानी पिने की किल्लत  को लेकर काफी परेशान है।


         इस सबंध मे आदिवासीयो ने सरपंच को भी अवगत कराया। जिस पर पीएचई विभाग के कर्मचारीयो द्वारा  हेन्डपंप मे पाईप बडोतरी करने के चक्कर मे हेन्डपंप  खोलकर गये ओर आज तक हेन्डपंप ऐसा ही पडा हुआ। न विभाग द्वारा पाईप आए न आज तक हेन्डपंप  सुधारा गया। जबकि गाव की पुन: शिकायत पर पीएचई विभाग जोबट से एक उपयंत्री दिनाक 17 अप्रेल को ग्राम मोटा उमर  के फलिये मे पहुचा और गाव के सरपंच के सामने पिडित आदिवासीयो को बोला कि, कल जोबट आकर पाईप ले जाओ और हेन्डपंप कर्मचारी से पाईप डलवा देगे। आप लोगो कि पानी की समस्या से निजात मील जाएगी। जिस पर गाव का एक दिपक नामक युवक अपने साथियो के साथ अपने नीजि किराये पर एक रिक्शा लेकर 18 अप्रेल को पीएचई कार्यालय जोबट पहुचा। किन्तु पाईप नही है कहकर उनको भगा दिया और कहा जब भी पाईप आऐगे पहुचा देगे।

         अब ऐसी स्थिति मे ग्रामीण आदिवासी करे भी तो क्या करे...? उनकी समस्या का निदान कैसे कुछ समझ से परे है...!

         इसी प्रकार उदयगढ विकास खण्ड  क्षैत्र की ग्राम पंचायत धामंदा के ग्राम खुशालबयडी मे दो वर्ष पुर्व पानी की टंकी सहित चार फलिया- तडवी फलिया, होली फलिया, धावडी फलिया, पटेल फलिया आदि मे शासन के द्वारा आदिवासीयो नलजल योजना से पानी मुहैया कराने के नाम पाईप लाईन बिछाने के नाम लाखो रुपया व्यय  किया गया। किन्तु गाव मे टंकी बनाने के बाद ठेकेदार ने तडवी फलिया व पटेल फलिया मे आज तक सम्पूर्ण पाईप  लाईन नही डाली और पीएचई विभाग से सांठ-गांठ कर नल जल योजना को प्रारंभ करवा दिया। कार्य अधुरा आजतक पुर्ण नही होकर योजना का लाभ आज तक  ग्रामीणो कोई नही मील पा रहा है।

         खुशहाल बयडी के आदिवासी ग्रामीण जन कुवरसिह नानका, सामुसिह बुधिया, रामलाल जवरसिह, राघुसिह खराडी, डुमसिह उकार, डुगरसिह वेस्ता, नानबु सुरसिह, रामा भुरसिह आदि ने बताया कि, शासन की योजना का लाभ आज तक नही मील रहा है। गाव मे पानी की समस्या बनी होकर आम आदिवासी  परिवार पुराने हेन्डपंप पर ही आधारित है। पटेल फलिया व तडवी फलिया के रहवासी परिवार समशान घाट पर लगा हेन्डपंप व स्कुल पर लगे हेन्डपंप से ही अपना जैसे-तैसे काम चलाकर अपनी प्यास बुझा रहे है। जबकि गाव मे नलजल योजना बंद पडी है।


         इसके साथ ही उदयगढ मुख्यालय पर भी शासन की  और से नलजल योजना अन्तर्गत एक नही दो-दो पानी की टंकी का निर्माण सहित योजना चालु बताई जा रही है। पानी सप्लाई  को लेकर आज भी उदयगढ वासी  काफी परेशान है। पानी व बिजली वयवस्था को लेकर शासन प्रशासन  प्रति वर्ष लाखो करोडो रुपया व्यय कर योजनाए तो जनहित मे लागु करती है। देखा भी जाए तो जगह-जगह  ग़्रामीण क्षैत्रो पानी की बनी टंकीया व बिजली के पोल से पता चलता की शासन आम जनता के लिए पानी व बिजली मुहैया को लेकर कितनी सजग है।

         परन्तु जब इन योजना को करीब से पडताल की जाए तो पता चलता है कि, ग्रामीण क्षैत्र मे इन योजनाओ का लाभ आम जन को नही मील रहा है। केवल पीएचई  विभाग की लापरवाही व ठेकेदार की साठ-गांठ की दास्तान नजर आती है। जो जिले मे प्रत्येक नल जल योजना की जाच कर दोषियो के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर आम जनता को अपना हक दिलाया जो ठेकेदार व पीएचई  विभाग खा गये है।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |