Tuesday, 23 ,April 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

भगवान महावीर जन्म कल्याणक महोत्सव पर निकाली शोभा यात्रा | भगवान महावीर जन्म कल्याणक महोत्सव पर चतुर्विद संघ ने प्रभातफेरी निकाल कर दिया सत्य अहिंसा का संदेश | एक कदम स्वच्छता अभियान की तहत सैफुद्दीन भाई का ऐलान | सम्मान समारोह का हुआ आयोजन, बच्चों ने बढ़-चढ़कर लिया प्रतियोगिता में भाग | बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ तथा फिजुल खर्ची रोकने के उद्देश्य को लेकर सेन समाज के सामुहिक विवाह सम्मेलन का हुआ आयोजन | कलेक्टर की बड़ी कार्यवाही, जिले के 15 निजी स्कूलों पर 2-2 लाख रु. का जुर्माना अधिरोपित | बमनाला में दिलाई गई मतदान करने की शपथ | थांदला माटी के संत 108 श्रीपुण्यसागरजी महाराज 19 वर्षों बाद करेंगें थांदला में मंगल प्रवेश, संघजनों में अपार उत्साह | ईद-उल-फितर की नमाज में उठे सैकड़ों हाथ, देश में अमन चैन, एकता व खुशहाली की मांगी दुआएं | ईदगाह से नमाज अदा कर मनाया ईद उल फितर का त्योहार, दिनभर चला दावतों का दौर | आबकारी विभाग द्वारा अवैध मदिरा के विक्रय के विरुद्ध निरंतर कार्यवाही जारी | श्री सिद्धेश्वर रामायण मंडल ने किया गांव का नाम रोशन | नागरिक सहकारी बैंक झाबुआ के भ्रत्य को अर्पित की श्रद्धांजलि | चुनरी यात्रा का जगह-जगह हुआ स्वागत | रक्तदान कैंप का हुआ आयोजन | रुपए लेने वाले दो व्यक्तियों का मंदिर में प्रवेश प्रतिबंधित, पुलिस कॉन्स्टेबल निलंबित | बस में मिली 1 करोड़ 28 लाख रुपए की नगदी एवं 22 किलो 365 ग्राम चांदी की सिल्ली | मानवता फिर हुई शर्मसार | आई गणगौर सखी देवा झालरिया आस्था का पर्व | दोहरे हत्याकाण्ड का में फरार सभी 14 आरोपियो की संपत्ति कुर्की हेतु की जाएगी कार्यवाही |

घरों के नलों से सड़क पर बहता पानी, बरसात से भी अधिक कीचड़
08, Dec 2022 1 year ago

image

पंचायत कर्मियों की मौखिक सूचना के बावजूद नहीं लगा रहे नालों में टोटियां

माही की गूंज, आम्बुआ।

        जिस क्षेत्र में स्वच्छता की सबसे अधिक जरूरत हो  और यदि उस क्षेत्र में गंदगी का साम्राज्य हो तो उसे क्या कहा जाए...! गंदगी कीचड़ भी प्राकृतिक नहीं अपितु रहवासियों की हठधर्मिता के कारण फैल रही। लोग हैं कि समझने को तैयार नहीं है।

        हम बात कर रहे हैं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आम्बुआ क्षेत्र की, जिसके सामने विभिन्न प्रकार की गंदगी के साथ ही सामने प्रमुख सड़क मार्ग पर बरसात से भी अधिक कीचड़ ही कीचड़ बारह माह दिखाई देता है। जहां से गुजरना मुश्किल होता है। कभी किसी के कपड़े खराब हो जाते हैं तो कभी दो पहिया वाहन तथा पैदल चलने वाले फिसल कर गिर रहे हैं। क्षेत्र के दुकानदार विशेषकर सड़क किनारे बैठकर सब्जी बेचने वाले ग्रामीण अधिक परेशान होते देखे जा सकते हैं। सड़क पर पसरा कीचड़ गंदगी प्राकृतिक आपदा से नहीं है अपितु इस क्षेत्र में घरों से बाहर लगे निजी नल कनेक्शन से हो रहा है। जिसमें टोटिया नहीं है तथा नल घरों के अंदर की बजाए बाहर लगा रखे हैं। जैसे जल प्रदाय किया जाता है इन नलों से बहने वाला पानी सड़क पर बह  निकलता है। प्रमुख मार्ग होने से दो पहिया, चार पहिया वाहन दिन भर गुजरते हैं। पानी व मिट्टी के कारण यहां कीचड़ हो जाता है। यही कीचड़ राह चलने वालों के कपड़े खराब करता है तो वाहनों के टायरों से उड़कर सब्जी बेचने वालों की सब्जी पर भी गिरकर सब्जी प्रदूषित करता है। इसी कीचड़ के कारण क्षेत्र की सड़क उखड़ कर गड्ढे हो गए हैं।

        पंचायत कर्मियों ने यहां के निवासियों को कितनी ही बार मौखिक रूप से सूचना दी कि, वे नलों में टोटिया लगाए तथा नल घरों के अंदर ले जाए मगर क्या मजाल यहां के निवासी कुछ सुनते। जबकि इस कीचड़ तथा गंदे पानी से यह लोग स्वयं भी परेशान होते रहते हैं। वाहन चालकों तथा अन्य नागरिकों की मांग है कि, पंचायत द्वारा इन नल उपभोक्ताओं पर उचित दण्डात्मक कार्रवाई करें।

         व्यापारी रवि खंडेलवाल ने बताया कि, हम लोग परेशान हो रहे हैं यहां कीचड़ ही कीचड़ होने से आने जाने वाले परेशान होते हैं।

         क्षेत्रीय निवासी हासिम अली बोहरा का कहना है कि, क्षेत्र में वर्षा के अलावा सड़क पर पानी बहता रहकर कीचड़ करता है जिससे परेशानी हो रही है।

         आम्बुआ निवासी शब्बीर भाई का कहना है कि, सड़क का कीचड़ उड़ कर दुकान के अंदर तक आ जाता है। यह बंद होना चाहिए।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |