Sunday, 02 ,October 2022
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

प्रति वर्ष अनुसार इस वर्ष भी जय मां अंबे मंदिर पर शानदार गरबो का हो रहा आयोजन | ग्राम करवड़ में पुलिस को मिली अवैध अंग्रेजी शराब | सुन चम्पा, सुन तारा, कोई जीता, कोई हारा | नवरात्रि की पंचमी तिथि को मातृशक्ति ने निकाली विशाल चुनरी यात्रा | नगर पालिका परिषद मे कांग्रेस ने लहराया परचम | नगर परिषद चुनाव नतीजों की हुई घोषणा | कुरैशी पवित्र उमराह यात्रा के लिए हुआ रवाना, ग्रामवासियो ने स्वागत कर दी विदाई | लेट्रिंग तक का रूपया खाने वाले भ्रष्टो के विरूद्ध होगी कार्रवाई या जनसेवा के नाम पर ढकोसला कर भ्रष्टाचार को देंगे बढ़ावा | आधे घन्टे की जोरदार बारिश ने किया नुकसान, जगह-जगह गिरे पेड़, नवरात्रि पंडालों में भी हुआ नुकसान | चिकित्सकों ने विद्यार्थियों को बांटी पेन व कॉपी | नवागत पुलिस अधीक्षक अगम जैन ने बुधवार को किया पदभार ग्रहण | आज रात होगी मतदाताओ रिझाने की अंतिम कोशिश, वार्डो के चुनाव में कोई नही पहुँच पा रहा अंतिम परिणाम तक | थाना प्रभारी सजंय रावत को मुख्यमंत्री की सभा की व्यवस्था संभालना पड़ा भारी | अंतिम दिन बड़ी संख्या में भागवत कथा श्रवण करने पहुँचे भक्त | शांति समिति की बैठक सम्पन्न | सहायक सचिव के पिता की जहर पीने से हुई मौत | चुनावी दौरे पर आए सीएम से पंचाल समाज ने लगाई गुहार | सीएम चौहान ने भाजपा पार्षद उम्मीदवारों के लिए चुनावी सभा को किया संबोधित | जिले में पहुंचे सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जन सेवा अभियान में हिस्सा लेने के बाद जिला मुख्यालय में की चुनावी सभा | चुनाव प्रचार के अंतिम दिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री जनसेवा शिविर में नहीं जाकर जनता से मांगेंगे माफी या अलीराजपुर की चुनावी सभा को करेंगे स्थगित...? |

छोटे किसानों को देखते हुए अतिक्रमण अर्थदंड वसूली राशि कम की जाए
18, Feb 2021 1 year ago

image

माही की गूंज, अलीराजपुर

     आदिवासी समाज और बिरसा ब्रिगेड जिला अलीराजपुर ने कलेक्टर से निवेदन कर पत्र में बताया कि, अलीराजपुर आदिवासी बाहुल्य जिला है और यहां ज्यादातर किसान गरीबी के चलते गुजरात, महाराष्ट्र पलायन कर जाते है जिले में राजस्व की शासकीय भूमियों पर छोटे किसानों के अतिक्रमण है जहाँ वो एक फसल रबी की ही ले पाते है ।पिछले साल से देखा गया है कि, राजस्व विभाग द्वारा शासकीय भूमि पर अतिक्रमण के अर्थदंड राशि 1500, 2 हजार से लेकर 5 हजार से 7 हजार तक जिलेभर में वसूली गयी। जिसे भरने के लिए किसान अपने साहूकार के पास जाता है और फिर कर्जा लेकर पैसा अर्थदंड के रुपए भरता है। वर्तमान में अतिक्रमण अर्थदंड वसुली का कार्य जारी है और पिछली बार की तरह ही वसूली की जा रही है। हम आदिवासी समाज व बिरसा ब्रिगेड मांग करते है कि, जिले के किसानों को देखते हुए अर्थदंड राशी शासक भूमि अनुसार 500 ओर अधिकतम 1 हजार रुपए तक करने और वसूलने के निर्देश दे, जिससे किसानों को किसी के सामने हाथ फैलाना ना पड़े व मानसिक रूप से परेशानियों का सामना ना करना पड़े। इस संबंध में प्रतिलिपि मध्यप्रदेश पटवारी संघ के जिलाध्यक्ष नितेश अलावा को भी दी गई है।इस अवसर पर उपस्थित बिरसा ब्रिगेड के जिलाध्यक्ष सुरेश सेमलिया, सालम सोलंकी, संजय भूरिया, अभिषेक बारेला, बबलू डावर, अरविन्द सोलंकी आदि मौजूद थे।



माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |