Thursday, 20 ,June 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

अंचल के चंदन का नया सीरियल शुरू | रातभर चला पुलिस का नाईट कॉम्बिंग ऑपरेशन | जिले में हो रहे अवैध शराब परिवहन को लेकर चूडी और साडी कांग्रेस विधायक नेता प्रतिपक्ष के साथ विधानसभा में सीएम को करेंगी भेंट | जिले मे शराब माफियाओ के आगे बेबस हूई पूलिस, अधिकारीयो के संरक्षण मे होता बेखौफ अवैध शराब का परिवहन | गंगा दशमी के पूर्व सियाराम आश्रम पर संतो का भंडारा | जल गंगा संवर्धन अभियान के तहत बावड़ी की सफाई प्रारंभ | पूज्य पुंज पुण्यशीलाजी महासतियों का नगर में मंगल प्रवेश | पर्यावरण संवर्धन के उद्देश्य से दाऊदी बोहरा कब्रिस्तान में किया पौधारोपण | लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा की विधानसभा समीक्षा बैठक संपन्न | अलग-अलग हुई दुर्घटना में एक की मृत्यु दो जख्मी | आम्बुआ-जोबट तिराहे मार्ग पर बेतरतीब खड़े रहते हैं वाहन | सामने से आ रहे वाहन को बचाने में कोल्ड्रिंक से भरा वाहन पलटा, दुलाखेड़ी-पेटलावद की बीच हुआ हादसा | धमकी देकर अवैध वसुली करने वाले आरोपी को हथियार सहित पुलिस ने 48 घंटे मे किया गिरफ़्तार | मुख्यमंत्री डॉ. यादव मां शिप्रा को चुनरी करेंगे अर्पित | जल गंगा संवर्धन अभियान के अंर्तगत सहभागिता से श्रमदान | भोला भण्डारा परिवार ने कथा वाचक कान्हा कौशिकजी का किया स्वागत | पापा स्कॉर्पियो दिला दो… नहीं मिली तो खाया जहर, इकलौते बेटे की गई जान | हम फाउंडेशन भारत की मातृ शक्ति ने किया पौधरोपण | 60 लीटर अवैध शराब के साथ एक आरोपी गिरफ्तार | प्रतिभावान बच्चों को भगवत गीता और पौधे देकर दिया पर्यावरण संरक्षण और संस्कृति से जुड़ने का संदेश |

गंगा दशहरा पर्व: 15 एवं 16 जून को शिप्रा तीर्थ परिक्रमा में बड़ी संख्या में शामिल होंगे श्रद्धालु
09, Jun 2024 1 week ago

image

लोकप्रिय कलाकारों द्वारा भजन संध्या एवं भक्ति गीतों की दी जाएगी प्रस्तुति

मां शिप्रा सहित अन्य प्रमुख नदियों, जल संरचनाओं और  पारंपरिक जलस्त्रोतों पर केंदित पुस्तिकाओं का होगा विमोचन 

माही की गूंज, उज्जैन।

           पावन नगरी उज्जैन में गंगा दशहरा पर्व के उपलक्ष्य में शिप्रा तीर्थ परिक्रमा का आयोजन 15 एवं 16 जून को किया जाएगा। परिक्रमा में बड़ी संख्या में श्रद्धालु सम्मिलित होंगे। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की मंशानुरूप 5 जून से 16 जून तक प्रदेश भर में जल संरक्षण के लिए जल गंगा संवर्धन अभियान चलाया जा रहा है। इसी उद्देश्य को लेकर विगत 20 से 22 वर्षों से ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष नवमी से ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष दशमी ( गंगा दशहरा) को दो दिवसीय शिप्रा तीर्थ परिक्रमा आयोजित की जाती है।

           गंगा दशहरा पर्व की तैयारियों हेतु शनिवार को प्रशासनिक संकुल भवन में आयोजित बैठक में उज्जैन कलेक्टर नीरज कुमार सिंह द्वारा विस्तार से समीक्षा की गई। बैठक में विधायक उज्जैन उत्तर अनिल जैन कालूहेडा, नगरनिगम अध्यक्ष श्रीमती कलावती यादव, महापौर मुकेश टटवाल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मृणाल मीणा, अपर कलेक्टर अनुकूल जैन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जयंत सिंह राठौड़ सहित शिप्रा तीर्थ परिक्रमा समिति के सचिव नरेश शर्मा , समिति के सदस्यगण, संबंधित विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित रहे। इसके अलावा सांसद बालयोगी संत उमेशनाथ महाराज जी, महाराजा विक्रमादित्य शोध पीठ के निदेशक श्रीराम तिवारी भी वर्चुअली बैठक में शामिल हुए।

           कलेक्टर सिंह ने कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा कर निर्देश दिए कि मुख्य कार्यक्रम स्थल रामघाट पर नगर निगम द्वारा साफ सफाई और सौंदर्यीकरण कराया जाए। रामघाट पर बेहतर प्रकाश व्यवस्था और आकर्षक लाइटिंग की व्यवस्था रहे। घाट पर पेंटिंग और कलाकृतियां भी कराएं। इसी प्रकार लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग विभाग द्वारा पेयजल के लिए शिप्रा तीर्थ मार्ग पर पानी के टैंकर्स लगाए जाएं। जो यात्रा के साथ आगे बढ़ें। शीतल पेयजल के लिए सांची के पानी के टैंकर भी लगाएं।

           चुनरी अर्पण की तैयारी उज्जैन शहरी विकास प्राधिकरण द्वारा की जाए। कलेक्टर सिंह ने निर्देश दिए कि यात्रा मार्ग अवरुद्ध न हो। इंजीनियर यात्रा मार्ग के रूट का अवलोकन करें। आवश्यक मरम्मत के कार्य शीघ्र पूर्ण  किये जाएं। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि 16 जून को आयोजित मुख्य कार्यक्रम में जल गंगा संवर्धन अभियान से जुड़े विभिन्न सामाजिक संगठनों को भी आमंत्रित किया जाए। जल संरक्षण की दिशा में उल्लेखनीय कार्य करने वालों सम्मानित करें।

            निदेशक महाराजा विक्रमादित्य शोध पीठ श्रीराम तिवारी ने 15 एवं 16 जून की शाम रामघाट, दत्त अखाड़ा क्षेत्र में होने वाले सांस्कृतिक आयोजन के स्वरूप के संबंध में बताया कि विभिन्न लोकप्रिय कलाकारों द्वारा भजन संध्या एवं भक्तिगीतों की प्रस्तुति दी जाएगी। कार्यक्रम महाराजा विक्रमादित्य शोध पीठ की तरफ से होगा। इस अवसर पर शिप्रा नदी के महत्व और उसके सांस्कृतिक वैभव की जानकारी देने वाली विशेष पुस्तिका का लोकार्पण भी होगा। सदानीरा केंद्रित ऑडियो वीडियो सीडी का लोकार्पण भी किया जाएगा। बताया गया कि मां शिप्रा सहित अन्य प्रमुख नदियों , जल संरचनाओं और जो पारंपरिक जलस्रोत रहे हैं (वर्तमान में विलुप्त हो चले हैं) सभी की सैटेलाइट मैपिंग करवा कर प्राचीन वांग्मय,परंपरा, के संदर्भों के साथ सर्वे आधारित डाक्यूमेंटेशन का प्रकाशन किया जाएगा।

          सांसद बालयोगी संत उमेशनाथ महाराज जी ने कहा कि, गंगा दशहरा पर्व को जनता का अभियान बनाएं। मुख्यमंत्री डॉ यादव द्वारा 20 वर्ष पहले शुरू किए गए इस पुनीत अभियान को सफल आयोजन किया जाए। सभी शासकीय, अशासकीय संस्थाएं ,जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक , विवेकशील जन , पत्रकारगण सभी मां शिप्रा के शुद्धिकरण का संकल्प ले।

           विधायक अनिल जैन कालूखेड़ा ने कहा कि, गंगा दशहरा पर्व अभियान का व्यापक प्रचार प्रसार कर अभियान के पुनीत उद्देश्यों से जनसामान्य को अवगत कराएं। वर्षा ऋतु को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम स्थलों पर वाटरप्रूफ टेंट लगाए जाएं। नगर निगम सभापति श्रीमती कलावती यादव ने समन्वित प्रयासों से अभियान को सफल बनाने का आग्रह किया।

★ शिप्रा तीर्थ परिक्रमा मार्ग

प्रथम दिवस 15 जून 2024 शनिवार

            मां शिप्रा तीर्थ परिक्रमा प्रातः 8.00 बजे रामघाट से आरम्भ होगी जो रामघाट से नृसिंहघाट, आनंदेश्वर मंदिर, जगदीश मंदिर, गऊघाट, जंतर-मंतर (वेद्यशाला), वरूणेश्वर महोदव (शीतल गेस्ट हाऊस) से इन्दौर रोड, सीएचएल अस्पताल, प्रशांतिधाम सांई मंदिर, गुरूकुल (त्रिवेणी) दोप. 12 बजे गुरुकूल विद्यालय पर भोजन विश्राम हेतू प्रथम पड़ाव) यात्रा दोपहर 3.00 बजे गुरुकुल त्रिवेणी से प्रस्थान जो नवग्रह शनि मंदिर, गोठडा, सिकन्दरी, दाउदखेडी, चांदमुख, चिंतामण, मंगरोला फन्टा, लालपुल होते हुए भुखीमाता मंदिर, गुरूद्वारा नानक देव (रात्रि भोजन), नानक घाट से दतअखाडा। (भजन संध्या व रात्रि विश्राम पडाव दत्त अखाड़ा।) रात्रि विश्राम होगा।

16 जून 2024 रविवार 

           प्रातः 7.30 पर यात्रा प्रस्थान- दत्तअखाडा से रणजीत हनुमान, कालभैरव, भैरवगढ़ सिद्धनाथ,अंगारेश्वर, कमेड, मंगलनाथ, सान्दीपनी आश्रम, राम मंदिर, गढ़कालिका, यात्रा दोपहर 3 बजे से भृतहरीगुफा, ऋणमुक्तेश्वर, वाल्मीकी धाम (भोजन विश्राम), दुर्गादास राठौर की छत्री चक्रतीर्थ, दानीगेट, ढ़ाबारोड, गोपालमंदिर, पटनीबाजार, गुदरी चौराहा, महाकाल मंदिर, बडेगणेश मंदिर, सिद्ध शक्तिपीठ हरसिद्धी मंदिर होते हुए रामघाट पहुंचेगी। सांयकाल 6.30 शिप्रा-गंगा पूजन, चुनरी अर्पण के पश्चात भजन संध्या से कार्यक्रम का समापन होगा। शिप्रा लोक संस्कृति समिति उज्जैन और महाराजा विक्रमादित्य शोधपीठ उज्जैन कार्यक्रम के आयोजक रहेंगे।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |