Friday, 19 ,July 2024
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

20 माह बाद भी अपने पुनरुद्धार की बाट जोह रही है सड़क | जिला पत्रकार संघ की जिला कार्यकारिणी का हुआ स्नेह मिलन समारोह | पुलिस ने 8 घण्टे के भीतर किया महिला की निर्मम हत्या का खुलासा | शिप्रा नदी में हाथ-पैर और मुँह बंधी लाश मिली | पांच मोटरसाइकिल के साथ चोर गिरफ्तार | जन्मप्रमाण पत्र के अभाव में कई बच्चो का भविष्य अंधकार में | सुंदराबाद में होगा महिला एवं बाल हितेषी पंचायत का गठन | अणु पब्लिक स्कूल में अलंकरण समारोह की धूम | अमरनाथ यात्रा के लिए रवाना हुए तीन युवा | कृषि विभाग और पुलिस, सोयाबीन के वाहन को लेकर आमने-सामने | 'एक पेड़ मां के नाम' अभियान को लेकर किए पौधरोपण | एक पेड़ मां के नाम अभियान के तहत पुलिस विभाग ने किया पौधरोपण | ठंड-गर्मी का मौसम निकला अब कीचड़ में बैठेंगे सब्जी विक्रेता, सड़क किनारे बैठकर दुर्घटना को दे रहे न्योता | धरती हमारी माँ है, पौध रोपण कर सभी करे इसकी सेवा- न्यायाधीश श्री दिवाकर | धरती आसमां को जयकारों से गुंजायमान करते हुए अणुवत्स श्री संयतमुनिजी ठाणा 4 का थांदला में हुआ भव्य मंगल प्रवेश | पुलिस ने 24 घंटे के अंदर पकड़ा मोबाईल चोर | समरथमल मांडोत मंडी अध्यक्ष नियुक्त | जनपद पंचायत मुख्यालय पर हुआ सम्पूर्णता अभियान का शुभारंभ | आगामी त्यौहार मोहर्रम के सबंध में हुई एसडीएम कार्यालय में आयोजित हुई बैठक | सफल हुई अंतिम आराधन, कमलाबाई पीचा का संथारा सिझा |

पति को खो चुकी लाडली बहना को दो साल बाद भी नही मिली उपादान की राशि
16, Sep 2023 10 months ago

image

क्या नगर परिषद को नही शासन के नियमो की जानकारी, उपर से मांगते हैं सलाह

माही की गूंज, पेटलावद।

         मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री प्रदेश की महिलाओं को लाडली बहना ओर भांजिया बोलकर उनके लिए तरह-तरह की योजनाओं का दावा करते हैं। लेकिन उसके विपरीत मुख्यमंत्री की सरकारी मशीनरी लाडली बहनों के हक अधिकारों के लिए वर्षो तक सरकारी कार्यालयों के चक्कर कटवाते है। मामला नगर परिषद पेटलावद का जहा मुकेश पिता शंकरलाल अटकान जो कि, नगर परिषद में सफाई संरक्षक के पद पर स्थाईकर्मी के रूप में पदस्थ होकर 22 जनवरी 2021 में निधन हो गया। शासन की योजना अनुसार स्थाईकर्मी की पत्नी को उपादान की राशि लगभग साढ़े तीन लाख रुपये मिलना थे। पति के निधन के बाद मृतक कर्मचारी की पत्नी तारा अतकान विगत दो वर्षो से नगर परिषद कार्यालय के चक्कर इस राशि के भुगतान के लिए लगा रही है लेकिन आज दिनांक तक राशि का भुगतान नही हुआ। महिला बीते  दो वर्षो से लगातार आवेदन दे रही है लेकिन परिषद के जिम्मेदार महिला के आवेदन पर उच्च अधिकारियों से सलाह लेने का पत्र भेज कर इतिश्री कर लेते है। मृतक कर्मचारी की पत्नी तारा अटकान सयुक्त संचालक इंदौर को पत्र लिखकर बताया कि, पति की मृत्यु के दो साल  बाद भी परिषद की और से एक भी रुपये का सहयोग नही मिला। इस सम्बध में जब परिषद में आवेदन दिया तो सीएमओ द्वारा सयुक्त संचालक इंदौर का मार्ग दर्शन चाहा गया। जबकि सामान्य प्रशासन विभाग भोपाल के आदेश के अनुसार उपादान राशि का भुगतान मृत कर्मचारी के परिवार को सहायता राशि एवं अन्य सहयोग दिए जाने का प्रावधान है, जिसके बावजूद इसका लाभ नही मिला।

आर्थिक तंगी से जूझ रहा गरीब दलित परिवार

         आवेदक तारा अटकान ने बताया कि, पति की मृत्यु के बाद दो साल से परिवार आर्थिक तंगी से जूझ रहा है। दैनिक वेतन भोगी के रूप में नगर परिषद में पदस्थ तारा अटकान को मिलने वाले मामूली वेतन से परिवार का गुजर बसर नही हो पा रहा है। महिला के परिवार में दो छोटे बच्चे भी है जिनकी जिम्मेदारी भी अब तारा पर ही है।

मुख्यमंत्री बड़ा चुके है उपादान राशि

         प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्थाई कर्मियों की सेवा समाप्त होने और नोकरी काल मे मरने के बाद मिलने वाली उपादान की राशि बड़ा चुके हैं। पहले ये राशि दो लाख रुपये थी जो बढ़कर साढ़े तीन लाख तक की जा चुकी हैं। ज्यादातर गरीब तबके के कर्मचारियों को इसकी जानकारी नही होती ओर जानकारी मिलने पर इस प्रकार से राशि के भुगतान के लिए परेशानी उठानी पड़ती हैं। इस मामले में भी मृतक कार्मचारी की पत्नी ने 27 जून 2023 को उपादान की राशि के लिए सीएमओ को आवेदन जिस पर सीएमओ ने 17  जूलाई 2023 को एक पत्र सयुक्त संचालक इंदौर को भेज कर उचित मार्गदर्शन मांगा है।

कर्मचारी कल्याण संघ ने की शिकायत

         भारतीय सफाई कर्मचारी कल्याण संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष रमेशचन्द्र अटकान ने नगर परिषद पेटलावद से स्थाईकर्मीयो के हित व अधिकारों की जानकारी चाही गई थी लेकिन सीएमओ ने इसकी जानकारी नही दी। रमेशचंद्र अटकान ने बताया कि, नगर परिषद सीएमओ को दिनांक 27 जून 2023, 13 जूलाई 2023 व 8 अगस्त 2023 को पत्र लिखकर जानकारी चाही गई, लेकिन सीएमओ ने इसका कोई उत्तर नही दिया। अटकान ने बताया कि, मुख्य सचिव मध्यप्रदेश शासन सामान्य प्रशासन विभाग भोपाल के स्पष्ट आदेश है कि, कल्याण संघ के पत्रों का अनिवार्य रूप से जबाब दिया जाये लेकिन सीएमओ पेटलावद से  जानकारी नही दी जा रही।

पति के निधन के बाद दो वर्ष से उपादान की राशि के लिए परेशान तारा अटकान।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |