Tuesday, 29 ,November 2022
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

भानु की अग्निपरीक्षा तो अब हुई है प्रारंभ | जरा संभल करः लगातार घिर रहे हैं जयस समर्थक नेता, 2023 में जयस की राह मुश्किल बनाने की तैयारी | जनजातीय गौरव यात्रा का हुआ भव्य स्वागत | कपास से भरी पिकअप पलटी, ड्राइवर ने बचाई खुद की जान | देशी कट्टा उठाया और दबा दिया खटका, पति की हुई मौत | जनजाति विकास मंच की जिला स्तरीय बैठक संपन्न | भील प्रदेश विद्यार्थी मोर्चा ने बाबा साहब अम्बेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण कर मनाया संविधान दिवस | गुजरात चुनाव से पहले पुलिस को मिला अवैध शराब का जखीरा | 12 वर्ष पूर्व हुए विवाद को लेकर न्यायालय ने फैसला सुनाते हुए भदौरिया ग्रुप और अम्बर ग्रुप के लोगों को सुनाई सजा | सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल का भूमि पूजन सम्पन्न | चोरी की अजीब वारदात | जननायक टांटिया भील की मूर्ति लेने के लिए रवाना हुआ दल | जिलेभर में पैसा एक्ट की जानकारी व जागरूकता हेतु ग्राम सभाओं का हुआ आयोजन | पानी की समस्या को लेकर ग्राम पंचायत के उपसरपंच ने लिखित में की शिकायत | अनियंत्रित ट्राले ने फाटक पर खड़े लोगो को कुचला, तीन की मौत | भाजपा प्रदेश पदाधिकारी चुने हुए जनप्रतिनिधि का सम्मान नहीं कर पाए, तो जनता का कैसे करेंगे? | बाइक और टेंपो में हुई भिड़ंत, एक गंभीर घायल | जिला पत्रकार संघ झाबुआ का पत्रकार मैत्री समागम आयोजन सम्पन्न | जयस नेता कमलेश्वर डोडियार पर बलात्कार का प्रकरण दर्ज | ऑनलाइन गेमिंग पर लगेगी लगाम, गृह मंत्री ने कहा- कानून मसौदा बनकर तैयार |

थाना प्रभारी सजंय रावत को मुख्यमंत्री की सभा की व्यवस्था संभालना पड़ा भारी
26, Sep 2022 2 months ago

image

एसपी अरविंद तिवारी के निलंबन की आंच बेकसूर थाना प्रभारी पर

माही की गूंज, झाबुआ/पेटलावद।

         19 सितंबर को पेटलावद चुनाव की सभा की व्यवस्था संभालने के लिए जिले भर का पुलिस बल पेटलावद में लगा दिया था। मुख्यमंत्री की सभा मे पहुँचने से पहले किसान संगठन ने लहसुन, प्याज़ के भाव और खाद की समस्या को लेकर बड़े आंदोलन की चेतवानी दी थी। जिसके बाद पूरा प्रशासन अलर्ट मोड़ पर रहा और किसान संगठन से जुड़े प्रमुख पदाधिकारीयो को निगरानी में रखने के प्रयास किये गए। जिले की फोर्स के कई बड़े अधिकारी पेटलावद में मोर्चा संभाले हुए थे। मुख्यमंत्री की सभा से एक दिन पूर्व 18 सितंबर को झाबुआ पॉलिटेक्निक कॉलेज के स्टूडेंट के बीच विवाद हो गया, जिसके बाद मामला झाबुआ कोतवाली ओर एसपी अरविंद तिवारी के पास पहुँचा। लेकिन एसपी साहब ने बच्चों को अपशब्द कह दिए। चुनावी माहौल में मामला मुख्यमंत्री के पास पहुँच गया और झाँकीबाज़ी के चक्कर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जिले में पहली बार ऐसा निर्णय लिया जिसे सभी को चौका दिया। सीएम ने एसपी अरविंद को निलंबित कर दिया ओर चुनावी सभा मे इसे अपने सख्त प्रशासनिक पकड़ का संदेश देने की कोशिश की थी। रविवार को मुख्यमंत्री चौहान फिर से चुनावी सभा को संबोधित करने आये थे जहां कई और प्रशासनिक अधिकारीयो की शिकायत पहुँची लेकिन एसपी अरविंद तिवारी के निलंबन की आंच बेकसूर थाना प्रभारी संजय रावत पर गिरी ओर मुख्यमंत्री की सभा की व्यवस्था में पेटलावद में मोर्चा संभाल रहे कोतवाली के थाना प्रभारी को मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद लाइन अटैच कर दिया। यहां दिया तले अंधेरे वाली कहावत चरितार्थ होती दिख रही है। मुख्यमंत्री केवल अपनी चुनावी व्यवस्था को मजबूत करने के लिए स्थानीय प्रशासन की व्यवस्था पर गाज गिरा रहे है। 

         पेटलावद एसडीओपी सौनु डावर ने कहा कि, मुख्यमंत्री के दौरे के पहले जिले के सभी बड़े पुलिस अधिकारी रिहर्सल के लिए यहीं थे।


माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |