Monday, 27 ,June 2022
RNI No. MPHIN/2018/76422
: mahikigunj@gmail.com
Contact Info

HeadLines

नए चेहरे को मिला सरपंच पद, जनपद व जिला पंचायत में कौन रहा आगे | शांतिपूर्ण हुआ त्रिस्तरीय पंचायत में मतदान | फर्जी तरीके से दूसरी बार वोटिंग करने से पहले पकड़े गए युवा | तीर्थ यात्रिओ का किया स्वागत | पंचायत त्रिकोणीय मुकाबला चरम पर | वाहन दुकानों के सामने रखने से परेशान हो रहे दुकानदार व ग्राहक | निरोगी काया स्वस्थ जीवन के लिए मूलमंत्र- प्राचार्य डॉ. मेहता | जीआर इंफ्रा प्रोजेक्ट ने मनाया अंतराष्ट्रीय योग दिवस | चंदनवाड़ी विशाल भंडारें के लिए भोलें भण्डारा परिवार का सामग्री से भरा ट्रक हुआ रवाना | कक्षा 12 वी की पूरक परीक्षा देने आया फर्जी छात्र | बारात में जाने से पहले दूल्हा देने आया पूरक परीक्षा | जनमत से बने नीति, योजना और कानून | पार्षद के चुनाव के लिए 15 वार्डों में कुल 93 उम्मीदवारों ने किया नामांकन दाखिल | चालीस कार्यकर्ता भी जमा नही हुए सांसद गुमानसिंह डामोर के नाम पर | आपस मे भिड़ी मोटरसाइकिल, दो लोग गम्भीर घायल, आधे घन्टे बाद पहुँची एम्बुलेंस | कलेक्टर ने आगामी चुनाव को लेकर मतदान केंद्रों का किया दौरा | वर्षीतप आराधक रवि लोढ़ा का मनाया पारणा महोत्सव | ग्राम में मनाया मतदाता जागरूक दिवस | लक्की हत्याकांड को लेकर पंचाल समाज में आक्रोश | झाबुआ के बाद रतलाम में भी उठा खेल सामग्री क्रय में, अनियमितता का मामला |

कक्षा 12 वी की पूरक परीक्षा देने आया फर्जी छात्र
21, Jun 2022 6 days ago

image

माही की गूंज, थांदला।

        शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में फिल्मी तर्ज पर  फर्जी परीक्षा देने का मामला सामने आय़ा है। यहां एक फर्जी छात्र परीक्षा देते पकड़ाया है। एमए पास किया हुआ छात्र 12 वी अंग्रेजी पूरक परीक्षा देने पहुंचा था। कमरा नंबर 8 में वह अंग्रेजी पूरक का पेपर लिख रहा था। रोल न. 225126264 जों की विकास पिता कुशाल भुरिया का है उस की जगह एमए पास किया हुआ छात्र शेखर वसुनिया ईटावा पाया गया।

        उक्त जानकारी अन्य विद्यार्थियों से एबीवीपी के कार्यकर्ताओ को मिली तो एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने  शिकायत कलेक्टर एवं एसडीएम को की उसके पश्चात उसका भेद खुल गया। फर्जी छात्र पर कार्रवाई करते हुए उसे पुलिस थाने भेजा गया।

        मामले में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। फर्जी छात्र 9 बजे परीक्षा में सम्मिलित हुआ था करीब साढ़े 10 बजे उसका भेद खुला। ताज्जुब की बात यह है कि, डुयुटी पर तैनात  कर्मचारियों ने उसकी आईडी से पहचान नहीं की। फर्जी छात्र की शिकायत एबीवीपी के कार्यकर्ताओं द्वारा नहीं की जाती तो फर्जी छात्र परीक्षा देकर जा चुका होता और यह बात किसी को मालूम नहीं पड़ती। अब देखना यह है कि प्रशासन इस मामले पर किस तरह कार्रवाई करता है। इस तरह के मामले पहले भी झाबुआ जिले में देखने को मिले हैं। अब देखना यह है कि, प्रशासन कार्रवाई करते हुए छोटे कर्मचारियों की बलि चढ़ाता है या फिर उच्च पदाधिकारियों पर कार्रवाई करता है।

        अधिकारियों पर कार्रवाई न होने की स्थिति में एबीवीपी के पदाधिकारियों ने विद्यालय के खिलाफ उग्र आंदोलन करने की बात कही है। 



माही की गूंज समाचार पत्र एवं न्यूज़ पोर्टल की एजेंसी, समाचार व विज्ञापन के लिए संपर्क करे... मो. 9589882798 |